PM Yojana: अब दुसरी लड़की होने पर मिलेंगे 6,000 रुपयें, पढीए पूरी जानकारी…

Join Whatsapp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

PM Yojana: प्रधानमंत्री मातृवंदना योजना के तहत अब दुसरी लड़की होने पर भी सरकार ₹6000 वित्तीय सहायता के तौर पर लाभार्थी को दिए जायेंगे, इससे पहले प्रधानमंत्री मातृवंदना योजना के तहत सिर्फ पहली लडकी होने पर ही ₹5000 वित्तीय सहायता के तौर पर दिए जाते थे। पर अब प्रधानमंत्री मातृवंदना योजना लागू होने के बाद अब सरकार ने दूसरा बच्चा लड़की होने पर महिलाओं को 6,000 रुपये अतिरिक्त देने का फैसला किया है। इसके लिए जन स्वास्थ्य विभाग ने प्रधानमंत्री मातृवंदना योजना-2 लागू करने की घोषणा की है। प्रधानमंत्री मातृवंदना योजना-2 का लाभ कौन ले सकता है? प्रधानमंत्री मातृवंदना योजना-2 आवेदन कहा करें? इन सारे सवालों के जवाबों के लिए यह जानकारी आखिर तक जरूर पढे।

प्रधानमंत्री मातृवंदना योजना-2 का लाभ किसे मिलेगा? (PM Yojana)

  1. प्रधानमंत्री मातृवंदना योजना-2 का लाभ लेने के लिए महिला भारतीय नागरिक होनी चाहीए।
  2. महिला के पास आधार कार्ड होना चाहिए।
  3. प्रधानमंत्री मातृवंदना योजना-2 उन महिलाओं के लिए होगी जिनकी कुल पारिवारिक आय 8 लाख रुपये प्रति वर्ष से कम है और जिन महिलाओं की आयु न्यूनतम 18 वर्ष और अधिकतम 55 वर्ष है।
  4. प्रधानमंत्री मातृवंदना योजना-2 के तहत यदि दूसरा बच्चा जुड़वाँ है और दोनों लड़कियाँ हैं या एक लड़की और लड़का है, तो एकल लड़की के लिए ही इस योजना लाभ दिया जाएगा।

यह भी पढ़े: खुशखबर लड़की होने पर मिलेंगे 2 लाख रुपये, मुख्यमंत्री ने किया ऐलान।

प्रधानमंत्री मातृवंदना योजना के लाभार्थियों को निम्नलिखित लाभ दिए जाते हैं।

  1. ₹1,000 के पहले हस्तांतरण (गर्भावस्था तिमाही में) के लिए माँ को यह करना होगा: गर्भधारणा होने पर आंगनवाड़ी केंद्र (AWC) में गर्भावस्था का पंजीकरण कराएं।कम से कम एक प्रसवपूर्व देखभाल सत्र में भाग लें और आयरन-फोलिक एसिड की गोलियां और टीटी1 (TT1- टेटनस टॉक्सोइड इंजेक्शन) लें, औरआंगनवाड़ी केंद्र या स्वास्थ्य देखभाल केंद्र में कम से कम एक परामर्श सत्र में भाग लें।
  2. ₹2,000 के दूसरे हस्तांतरण (गर्भाधारणा के छह महीने बाद) के लिए माँ को यह करना होगा: कम से कम एक प्रसवपूर्व देखभाल सत्र और TT2 (टीटी2) में भाग लेना होगा।
  3. ₹2,000 के तीसरे हस्तांतरण (प्रसव के साढ़े तीन महीने बाद) के लिए माँ को यह करना होगा: बच्चे के जन्म का पंजीकरण कराना होगा।बच्चे को जन्म के समय, छह सप्ताह और दस सप्ताह पर ओपीवी(OPV) और बीसीजी(BCG) का टीकाकरण कराना होगा।प्रसव के तीन महीने के भीतर कम से कम दो विकास निगरानी सत्र में भाग लेना होगा।

प्रधानमंत्री मातृवंदना योजना-2 के लिए महत्त्वपूर्ण दस्तावेज।

  1. आधार कार्ड
  2. राशन कार्ड
  3. बँक पासबुक (आधार लिंक)
  4. मोबाईल नंबर

प्रधानमंत्री मातृवंदना योजना-2 के लिए आवेदन कहां करें?

  • प्रधानमंत्री मातृवंदना योजना-2 का लाभ लेने के लिए आप wcd.nic.in/schemes/ pradhan-mantri-matru-vandana-yojana इस वेबसाईट पर ऑनलाइन आवेदन कर सकते है।
  • या फिर आप अपने आंगनबाड़ी केंद्र पर प्रधानमंत्री मातृवंदना योजना-2 के लिए आवेदन कर सकते हैं।

यह जरूर पढें: इस योजना के माध्यम से बच्चों को प्रति माह ₹1100 मिलेंगे।

Join WhatsApp GroupClick Here

प्रधानमंत्री मातृवंदना योजना-2 (Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana-PMMVY) के बारे में यह जानकारी सभी भारतवासीयों के लिए बहोत महत्त्वपूर्ण है। इसलिए यह जानकारी अपने सभी दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें। और ऐसी ही सरकारी योजनाओं के बारें में जानकारी पाने के लिए www.sarkariyojanahindi.in इस वेबसाइट को फॉलो जरुर करें।

FAQ about Pradhanmantri MatruVandana Yojana (PMMVY)

Q. प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना में कितनी राशि दी जाती है?

Ans. ₹6000/-

Q. प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना का लाभ कैसे उठाएं?

Ans. ऑफिशियल वेबसाईट या फिर आंगनवाडी केंद्र में आवेदन करके।

Q. प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना कब से प्रारंभ हुई?

Ans. 01 जनवरी 2017

Q. प्रधान मंत्री मातृ वंदना योजना का लाभ कितने बच्चों तक मिलता है?

Ans. पहले सिर्फ पहली लडकी होने पर ही इस योजना का लाभ मिलता था पर अब प्रधान मंत्री मातृ वंदना -2 के बाद दुसरी लड़की होने पर भी मिलेगा।

Rate this post

Leave a Comment